युवाओं के कंधों पर भाईचारा बढ़ाने का दायित्व

लखीमपर:साझीविरासत,साझीशहादत,साझीसभ्यताओंऔरसाझेविचारोंपरआधारितयुवासंगमनतथाखिचड़ीभोजकाआयोजनसपाकेयुवासंगठनोंकेबैनरतलेविलोबीमैदानमेंआयोजितकियागया।जिसमेंमुख्यअतिथिकेतौरपरसपायुवजनसभाकेराष्ट्रीयअध्यक्षविकासयादवनेकहाकियुवासामाजिकसद्भावऔरमनुष्यताकीबराबरीके²ष्टिकोणसेकामकरे।चूंकियहआयोजनस्वामीविवेकानंदकेसामाजिकसद्भाव,भगत¨सह,डॉ.अंबेडकर,डॉ.लोहियाकेविचारोंसेप्रेरितहै,ऐसेकार्यक्रमनौजवानोंमेंप्रगतिशीलताप्रेमऔरभाईचारेकोबढ़ानेकाकार्यकरेंगे।कार्यक्रमकेसूत्रधारएमएलसीशशांकयादवनेकहाकिमजदूर,छात्र,शिक्षक,किसानहोंयाशिल्पकारयापत्रकारसबमेंयुवावर्गशामिलहैतोसबकोमिलकरअपनेदेशकोबेहतरबनानेकारास्तास्वयंनिकालनाहोगा।इन्हींउद्देश्योंकेलिएयुवासंगमनकीशुरुआतकीगईहै।युवासंगमनकेआयोजनमेंशामिलरहेजिलाउपाध्यक्षअजय¨सह,रियाजुल्लाखां,मुस्ताकअलीअंसारी,अमितवर्मा,मुन्नायादवनेकहाकियहयुवासंगमनसामाजिकन्यायऔरसमाजवादीविजनकोसाकारकरनेकाकामकरेगा।कार्यक्रममेंराज्यसभासदस्यरविप्रकाशवर्मा,प्रदेशसचिवधनंजयउपाध्याय,राष्ट्रीयमहासचिवयुवजनसभाअनुरागयादव,प्रदेशउपाध्यक्षयुवजनसभाकार्तिकतिवारी,अनुरागपटेल,उत्कर्षवर्मा,रामसरन,यशपालचौधरी,अंसारमहलूद,भूपेंद्र¨सह,उदयभान¨सहयादव,क्रांतिकुमार¨सह,आकाशलाला,शाश्वतमिश्रा,सुमित¨सह,जितेंद्र¨सहचहलआदिथे।