कुत्त वल ब्लू सेक्स वडय

सिविल सर्जन डॉ. उमेश शर्मा ने बताया कि भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद द्वारा कोविड-19 वायरस के परीक्षण की अनुमति निजी क्षेत्र की जांच प्रयोगशाला को प्रदान किये जाने के आलोक में बिहार राज्य में भी कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रसार को देखते हुए निजी क्षेत्र की प्रयोगशालाओ को आरटी -पीसीआर की विधि से 1500 रुपये प्रति जांच की दर से परीक्षण की अनुमति प्रदान की गई थी। अन्य राज्यों में निर्धारित शुल्क में कमी को देखते हुए बिहार में भी 800 रुपये प्रति जांच करने का निर्देश जारी किया गया है। वहीं, मरीज के निवास स्थान से सैंपल लिए जाने के लिए पूर्व में निर्धारित 300 रुपये की राशि को यथावत है। रैपिड एंटीजेन किट का मूल्य भी पहले से कम कर दिया गया है। रैपिड एंटीजेन किट पर जांच का निर्धारित मूल्य 250 रुपये कर दिया गया है। जांच के बाद आइसीएमआर के पोर्टल पर रिपोर्ट दर्ज करना अनिवार्य कर दिया गया है। जांच से संबंधित सूचना या जानकारी राज्य के सर्विलांस अधिकारी को देनी होगी। जांच के बाद कोविड-19 से संक्रमित रोगी के मिलने पर तत्काल सूचना सिविल सर्जन को देना होगा। इसके साथ ही शाम पांच बजे तक राज्य मुख्यालय को भी इससे अवगत कराना सुनिश्चित करेंगे। ज्यादा कीमत लेकर जांच की सूचना मिलने पर होगी कार्रवाई :

हनीट्रैप सेक्स कांड: पुलिस के हाथ लगे 100 से

इंदौर:मध्यप्रदेशकाहनीट्रैपसेक्सकांडछहसालपहलेउजागरहुएव्यावसायिकपरीक्षामंडल(व्यापमं)कीयादताजाकरानेवालाहै.इसकांडकीसूईभीव्या

सेक्स प्रोडक्ट बेचकर ये 5 महिलाएं बनीं करोड़प

नईदिल्ली,24सितंबर।भारतमेंसेक्सयाउससेसंबंधितबीमारियोंकेबारेमेंजाननेकेलिएयुवाओंकोगूगलकासहारालेनापड़ताहै।लोगक्याकहेंगे,इसडर