उच्च शक्ष में बदलव क जरूरत

प्रारंभिक जांच रिपोर्ट में यह बात सामने आई कि एक ही मोबाइल नंबर पर 50 से अधिक लोगों का रजिस्ट्रेशन किया गया। वहीं एक एंटीजन किट से तकरीबन 700 सेंपल की जांच करना दिखाया गया। इसी प्रकार हरिद्वार के एक ही घर से तकरीबन 530 सैंपल लेना दिखाया गया। इसके अलावा सैंपलिंग कराने वालों के पते और फोन नंबर भी गलत पाए गए। इतना ही नहीं, जांच कंपनियों द्वारा सैंपल लेने के लिए रखे गए कर्मचारी भी राजस्थान के विद्यार्थी और डाटा एंट्री आपरेटर निकले।

हवा का दबाव कम होने से संक्रमण का खतरा बढ़ा

जागरणसंवाददाता,हल्द्वानी:कोरोनाकेबीचठंडऔरबारिशनेमुश्किलेंभीबढ़ादीहैं।इसमौसममेंवायुमंडलमेंहवाकादबावकमहोनेसेसंक्रमणकाखतराब

विशेषज्ञों ने कोविड-19 के राष्ट्रीय पोषण मिशन

(उज्मीअतहर)नयीदिल्ली,पांचसितंबर(भाषा)देशइसमहीनेको‘पोषणमाह’केतौरपरमनारहाहैऔरइसबीचस्वास्थ्यसेवाविशेषज्ञोंनेराष्ट्रीयपोषणमि